Home News Contact About

विज्ञापन खातिर आरो करव-

jayantsahu9@gmail.com
'अंजोर ' छत्तीसगढ़ी मासिक पत्रिका वेब संस्करण ---- anjore.cg@gmail.com

सब्जी के खेती बर तको मिलही बिगर बियाज के करजा, तीन लाख रूपिया तक के देही करजा

सब्जी के खेती बर तको मिलही बिगर बियाज के करजा, तीन लाख रूपिया तक के देही करजा
सब्जी के खेती बर बिगर बियाज के करजा

अंजोर.रायपुर। छत्तीसगढ़ म उद्यानिकी फसल मन ल बढ़ावा दे जात हावय। किसान मन के उद्यानिकी फसल मन खातिर शून्य परतिसत ब्याज दर म तीन लाख रूपिया तक के करजा दे जात हावय।  उद्यानिकी फसल मन के उन्नत खेती के खातिर तकनीकी मार्गदर्शन अउ उन्नत खेती के खातिर सिंचाई सहित आने-आने उपकरण म अनुदान तको दे जात हावय।

छत्तीसगढ़ म उद्यानिकी फसल मन के रकबा 834.311 हेक्टेयर हावय अउ उत्पादन 11236.447 मीट्रिक टन हावय। शासन के योजना मन के सेती किसान उद्यानिकी फसल मन के खेती के तनि प्रेरित हो हावयं। विशेषज्ञ के कहना हावय के उद्यानिकी फसल मन के खेती म परंपरागत् खेती के अपेक्षा तीन गुणा जादा फायदा होवत  हावय। 
छत्तीसगढ़ म मुख्यतः टमाटर, हरी मिरचा के उत्पादन बड़े अकन म होवत  हावय। येकर अलावा छत्तीसगढ़ म कई रकम ले भाजी पालक, लालभाजी, चेंचभाजी, चौंलईभाजी, पटवाभाजी, मुनगाभाजी, कुसुमभाजी,  प्याजभाजी आन कई रकम ले के भाजियां पाई जात हावय, जेकर खपत मुख्यतः छत्तीसगढ़ म ही होवत हावय। सब्जी म भिंडी, परवल, फूलगोभी, पत्ता गोभी, भाटा, करेला, सेमी, कुंदरू, कटहल, मुनगा उकसब्जियां अउ फल म अंगूर, केला, अनानास, पपीता, काजू, अमरूद के उत्पादन होवत  हावय संग ही कई रकम ले के फूल के खेती होवत हावय। 

राज्य शासन डहर ले चलाये जाये वाला योजना-

राज्य शासन डहर ले फल पौधा रोपण हेतु, नदी कछार/तट म  लघु सब्जी उत्पादक समुदाय के प्रोत्साहन के योजना, बी.पी.एल अउ लघु/सीमांत किसानबाड़ी म टपक सिंचाई योजना, कम्यूनिटी फेसिंग योजना, पोषण बाड़ी विकास योजना सहित आन योजना राज्य शासन डहर ले चलाये जात हावय। 

किसान मनला दे जाथे अनुदान सहायता-

इही रकम ले संरक्षित खेती के ले ग्रीन हाउस स्ट्रक्चर, फैन एंड पैड सिस्टम के बनाये म प्रति हितग्राही अधिकत 4000 वर्ग मी. बर कुल लागत के 50 परतिसत अनुदान के मदद दे जात हावय। इही रकम ले नैचुरल वेंटीलेटैड सिस्टम, टयूब्यूलर स्ट्रक्चर शेडनेट हाऊस, पाली हाऊस के बनाये म प्रति हितग्राही अधिकतम 4000 वर्ग मी. तक सीमित कुल लागत के 50 परतिसत अनुदान दे जाथे। विभाग म संचालित किसान कॉल सेन्टर 1800-180-1511 के डहर ले किसान मन के सलाह तको दे जात हावय।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

जोहार पहुना, मया राखे रहिबे...

किस्सा कहिनी

सियानी गोठ

स्‍वामी/ प्रकाशक/ मुद्रक – जयंत साहू
संपादकीय कार्यालय – डूण्डा, सेजबहार रायपुर, छत्‍तीसगढ़ 492015
सिटी कार्यालय - पानी टंकी के सामने, अमलीडीह रायपुर छत्तीसगढ़
वाट्सअप- 9826753304
ई मेल : jayantsahu9@gmail.com
भारत के समाचारपत्रों के पंजीयक का कार्यालय नई दिल्ली
पंजीकरण संख्या-: CHHCHH/2014/56285