Home News Contact About

विज्ञापन खातिर आरो करव-

jayantsahu9@gmail.com
'अंजोर ' छत्तीसगढ़ी मासिक पत्रिका वेब संस्करण ---- anjore.cg@gmail.com

Kanker District News : चिल्हाटी के गउठान म अंडा उत्पादन ले स्व-सहायता कमावत हाबे मुनाफा anjor

Women of self-help group by producing eggs in Gothan of Chilhati becoming financially strong

अंजोर.कांकेर। छत्तीसगढ़ सरकार के बड़का योजना ने जिला के गउठान म आने-आने आयमूलक नवाचार करे जात हावय। जिला प्रशासन के मुताबिक गउठान म वर्मी खातु के उत्पादन करके ओकर बेचे जात हावय, संग ही समूह के महिला मन डहर ले मछली पालन, दाल मिल संचालन अउ सब्जी के उत्पादन करके अच्छा आमदनी होवत हावयं।  विकासखंड भानुप्रतापपुर के गांव चिल्हाटी के आदर्श गउठान म जय मां लक्ष्मी स्वसहायता समूह के महिला मन डहर ले कुकरी पालन करके अंडा उत्पादन इकाई के संचालन करे जात हावय।

चिल्हाटी गउठान म समूह के महिला मन डहर ले अंडा उत्पादन कुकरी के पाले अउ अंडा उत्पादन के खातिर केज बनाये गे हावय, केज म अंडा उत्पादन के खातिर अभी के बेरा म 180 कुकरी रखे गे हावय। पशु चिकित्सा अधिकारी डॉ. विजया नागवंशी अउ सहायक पशु चिकित्सा अधिकारी टीकम ठाकुर डहर ले समय-समय म मॉनिटरिंग करके स्व-सहायता समूह के महिला मनला प्रोत्साहित करे जात हावय।

’महिला सशक्तिकरण के जरिया बनत हाबे गोधन न्याय योजना’

गोधन न्याय योजना महिला स्व-सहायता समूह के महिला मनके खातिर सशक्तिकरण के जरिया बनत हावय। गउठान म अंडा उत्पादन इकाई के संचालन करइया महिला मन  गनेशिया, बबिता, रेमन, बसंताबाई, मालती अउ भारती ह बताइन के उत्पादित अंडा ल बेचे म कोनो दिक्कत नइ होवे। कुकरी ले रोज दिन 100 नग ले ऊपर अंडे मिलत हावयं, महज 10 दिन म 1 हजार अंड ल बेचे ले 6 हजार के आय मिले हावय। ग्रामीण कृषि विस्तार अधिकारी प्रवीण कवाची ह बताइन के चिल्हाटी गउठान के महिला समूह ए बुता के लगन ले करत हावयं, आगू तको मुर्गीपालन करके अंडा उत्पादन इकाई के बढ़ाये के विचार करे जात हावय।

ग्रामीण महिला मन के घर म मुर्गीपालन उंकर संस्कृति के हिस्सा हावय इही सेती ए क्षेत्र के महिला मन अंडा उत्पादन के बारीकी ले भली भांति परिचित हावयं, जेकर फायदा अब ओला मिलत हावय। मुख्यमंत्री सुपोषण अभियान के तहत आंगनबाड़ी के कुपोषित लइका के अंडा खिलाये जात हावय। महिला अउ बाल विकास विभाग डहर ले 5 ले 6 रूपिया प्रति नग के दर ले महिला समूह ले अंडा के खरीदी के जात हावय, जेला आंगनबाड़ी केन्द्र म बेचे के महिला मन आय अर्जित करत हावयं।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

जोहार पहुना, मया राखे रहिबे...

किस्सा कहिनी

सियानी गोठ

स्‍वामी/ प्रकाशक/ मुद्रक – जयंत साहू
संपादकीय कार्यालय – डूण्डा, सेजबहार रायपुर, छत्‍तीसगढ़ 492015
सिटी कार्यालय - पानी टंकी के सामने, अमलीडीह रायपुर छत्तीसगढ़
वाट्सअप- 9826753304
ई मेल : jayantsahu9@gmail.com
भारत के समाचारपत्रों के पंजीयक का कार्यालय नई दिल्ली
पंजीकरण संख्या-: CHHCHH/2014/56285