Home News Contact About
'अंजोर ' छत्तीसगढ़ी मासिक पत्रिका वेब संस्करण ---- anjore.cg@gmail.com

मालिक के करेजा कांप जथे जब मजदूर अपन हक बर करथे गोहार, कोलर आंदोलन म ये बात परगट होगे


अंजोर.रायपुर। रायपुर धमतरी रोड़ म अभनपुर ब्लॉक के गांव कोलर म बने एक बिसकुट फेक्टरी म आज छत्तीसगढि़या मनके अतका भीड़ जुटिस के मालिक के पुरखा के पुरखा तको मजदूर मनके सोसन करे ल छोड़ दिही। स्थानीय मजदूर मन संग होवत भेदभाव अउ अतियाचार के खिलाफ आज छत्तीसगढि़या क्रांति सेना के बेनर म कोलर गांववाले संग तिर-तखार के गांव के मन अऊ क्रांति सेना के सेनानी मन गजब झिन जुरियाइन।

कोलर बस्ती ले रैली के रूप म हजारों मजदूर, किसान अउ युवा मनके भीड़ ह बिसकुट फेक्टरी तक पहुंचिस अउ जोरदार तरीका ले अपन अधिकार के बात रखिन। मजदूर जब तक सोसन ल सहिथे तभे तक मालिक ह अतियाचार करथे अऊ जेन दिन मजदूर जाग जथे ओ दिन इही गत होथे। ये बात ले आन मन ल तको सीख लेना चाहि। 

जानबा होवय फेक्टरी मालिक ह गांव के स्थानीय मजदूर मनला निकाल के आन राज के मजदूर मनला भरत हावय। जेन काम म लगे हावय उंकरो मन सो बने बेवहार नइ करय। इही सेती ये जबर गोहार आंदोलन करे गिस। ‘भाग परदेसिया भाग – आग लगे हे आग’, ‘राज करही छत्तीसगढि़या’ जइसन नारा ले गांव के महतारी अउ जवान मन हजारों के संख्या म गांव ले फेक्टरी तक रैली करिन। जेमा प्रमुख रूप ले छत्तीसगढि़या क्रांति सेना के प्रदेश अध्यक्ष संग जिला संगठन अउ गांव इकाई के कार्यकर्ता मन सामिल होइन।

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

जोहार पहुना, मया राखे रहिबे...

किस्सा कहिनी

Contact Us

नाम

ईमेल *

संदेश *

कला-संस्कृति-साहित्य

follow us

T-Twitter | F-Facebook | Y-Youtube | Instagram | Pinterest
महतारी भाखा के उरउती खातिर भारत के समाचार पत्र के पंजीयक कार्यालय नई दिल्ली म पंजीकृत ' अंजोर ' छत्तीसगढ़ी मासिक पत्रिका के anjor.online वेब संस्करण म छत्तीसगढ़ी बुलेटिन, किस्सा-कहानी अउ कला-मनोरंजन संग सोशल मीडिया के चारी, कुछ आन भाखा के अनुवाद समोखे, छत्तीसगढ़ के जन भाखा म जन-जन तक बगराथन। जुड़व ये उदीम - anjore.cg@gmail.com

सियानी गोठ

भारत के समाचारपत्रों के पंजीयक का कार्यालय नई दिल्ली
पंजीकरण संख्या-: CHHCHH/2014/56285