Home News Contact About
'अंजोर ' छत्तीसगढ़ी मासिक पत्रिका वेब संस्करण ---- anjore.cg@gmail.com

प्रेमिका ले फोन म बात नइ कराइस ये सेती भांची के हत्या कर दीस कलयुगी ममा


अंजोर.कोरबा। बलगी भूमि हत्याकांड म पुलिस ह लघियात कार्रवाई करत आरोपी ल 24 घंटा के भितर धर दबोचिस। मामला म सबले चौकाने वाला बात ये आए के ओकर मुं‍ह बोला ममा ही निकलीस कातिल। मिले आरो के मुताबिक बलगी के रहइया लक्ष्मण जांगड़े के नतनिन भूमि सोनवानी बचपन ले अपन नाना घर राहत रिहिसे। 3 नवंबर के लक्ष्मण के बहू अउ बेटा खेती बुता बर गोढ़ी गांव गे रिहिन। 5 नवंबर के लक्ष्मण जांगड़े ड्यूटी जाए बर संझा 4 बजे रवाना होइस अउ रात 12 बजे जब घर वापस लहुटिस त देखथे के भूमि जमीन म खून ले लथपथ परे हाबे। आनन-फानन म ओहा घटना के जानकारी बांकी पुलिस ल दीस। 

आरो मिलते ही पुलिस दल बल के साथ दर्री सीएसपी खोमन लाल सिन्हा बाकी मोंगरा टीआई सुमंत सोनवानी मौका म पहुंचिन। संग म डॉग स्क्वाड अउ फॉरेंसिक के टीम तको पहुंचगे। जिला पुलिस अधीक्षक अभिषेक मीणा के निर्देश म अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक कीर्तन राठौर के मार्गदर्शन म पुलिस ह मामला के जांच शुरू करिस ये दौरान मृतिका के मोबाइल ले बड़ा सुराग मिलगे। पूछताछ म पुलिस ल पता चलिस के लक्ष्मण जांगड़े के पड़ोस म रहइया सुनील रात्रे जेन भूमि के मामा नरेंद्र जांगडे के संगवारी आए। भूमि तको ओला ममा माने। घर आना-जाना करय। 

सुनील के बलगी म रहइया एक युवती ले प्रेम प्रसंग रिहिस। जेकर आन संग बिहाव होगे रिहिसे। तभो ले सुनील ह भूमि ल ओकर ले फोन म गोठबात कराये बर दबाव बनावे। घटना के दिन तको रात 8 बजे सुनिल भूमि के घर पहुंचिस। भूमि ओ दिन अकेल्ला रिहिसे। भूमि ल प्रेमिका ले बात कराये बर केहे लगिस फेर ओ नइ मानिस तब गुस्सा म सुनील ह भूमि के गला दबाके हत्या कर दीस। कहू बांच झिन जाए किके किचन म रखे चाकू ले ओकर गला ल अऊ रेत दीस। चाकू म लगे खून ल वोहा उंकरे घर म धोके चुपचाप रखके घर आगे। लहू ले सनाय कपड़ा ल धो तको डरिस। अऊ दूसर दिन भतीजी के इलाज कराये के बहाना रायपुर रवाना होगे। पुलिस जब सुनील ल रायपुर ले बलाके पूछताछ करिस तव टूटगे अउ अपन गुनाह कबुल डरिस। बांकी पुलिस ह आरोपी के खिलाफ धारा 302 के तहत मामला पंजीबद्ध करके गिरफ्तार करे के बाद ओला रिमांड म न्यायालय पठो दिस।

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

जोहार पहुना, मया राखे रहिबे...

किस्सा कहिनी

Contact Us

नाम

ईमेल *

संदेश *

कला-संस्कृति-साहित्य

follow us

T-Twitter | F-Facebook | Y-Youtube | Instagram | Pinterest
महतारी भाखा के उरउती खातिर भारत के समाचार पत्र के पंजीयक कार्यालय नई दिल्ली म पंजीकृत ' अंजोर ' छत्तीसगढ़ी मासिक पत्रिका के anjor.online वेब संस्करण म छत्तीसगढ़ी बुलेटिन, किस्सा-कहानी अउ कला-मनोरंजन संग सोशल मीडिया के चारी, कुछ आन भाखा के अनुवाद समोखे, छत्तीसगढ़ के जन भाखा म जन-जन तक बगराथन। जुड़व ये उदीम - anjore.cg@gmail.com

सियानी गोठ

भारत के समाचारपत्रों के पंजीयक का कार्यालय नई दिल्ली
पंजीकरण संख्या-: CHHCHH/2014/56285