Home News Contact About
'अंजोर ' छत्तीसगढ़ी मासिक पत्रिका वेब संस्करण ---- anjore.cg@gmail.com

अपराध के रोकथाम खातिर एक्शन म दिखिस पुलिस, गृहमंत्री करिन कानून व्यवस्था के समीक्षा

अंजोर.रायपुर। प्रदेश म अपराध के रोकथाम खातिर पुलिस एक्शन म दिखिस। गृहमंत्री श्री साहू ह समीक्षा बइठक लेवत किहिन के हर थाना क्षेत्र म अपराध के रोकथाम खातिर अनिवार्य रूप ले रात के गश्त करे जाए। मेडिकल अउ आबकारी अधिकारी ले समन्वय करके नशीला पदार्थ अउ अवैध शराब बिक्री म सख्त कार्यवाही करे जाए। ये बइठक म संसदीय सचिव विकास उपाध्याय, अपर मुख्य सचिव गृह सुब्रत साहू, पुलिस महानिदेशक डी.एम. अवस्थी सहित आन अधिकारी उपस्थित रिहिन।

गृहमंत्री श्री साहू ह पुलिस अधीक्षक ले किहिन के अपराध म लगाम लगाये खातिर गुण्डा-बदमाश मनके चिन्हित करके, पेट्रोलिंग बढ़ाएं, चौक-चौराह म सी.सी. टी.व्ही. कैमरा के संख्या बढ़ाएं। होटल म बाहर ले आने वाला मन के निगरानी रखें। अपराधी मनला सूचना देवइया मनके नाम गोपनीय रखें। ओमन किहिन के शहर के व्यस्त इलाका म अऊ प्रमुख व्यापारिक प्रतिष्ठान, दुकान म सी.सी. टी.व्ही. कैमरा लगाये खातिर प्रोत्साहित करें। बेरा-बेरा म व्यापारी अउ जन प्रतिनिधी मनके बैठक तको लेवय। आगू ओमन किहिन के पुलिस के काम आम जनता ल परेशान करना नइ होना चाहि। पुलिस के काम आम जनता ल सुरक्षा प्रदान करना हावय। ओमन किहिन के अपराध के रोकथाम खातिर सूचना प्रणाली ल मजबूत रखय। मानव तस्करी, महिला ले संबंधित अपराध विशेषकर घरेलू हिंसा जइसन मामला म परिवार परामर्श केन्द्र के माध्यम ले आपसी सुलहनामा कराये जाए। 

बइठका म संसदीय सचिव विकास उपाध्याय ह किहिन के पुलिस मित्र के माध्यम ले जनता ले जोड़े अउ अपराध म नियंत्रण खातिर पुलिस हरकत म दिखना चाहि। शराबखोरी, नशा, जुआ, सट्टा के संभावित ठिकाना म नियमित चेकिंग के संग अद्यतन अपराधी मन उपर निगरानी रखे के सुझाव तको दिस। ये मउका म सबो संभाग के पुलिस महानिरीक्षक, पुलिस महानिरीक्षक गुप्तवार्ता अउ सबो जिला के पुलिस अधीक्षक मन विडियो कांफ्रेंसिंग म शामिल होए रिहिन।

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

जोहार पहुना, मया राखे रहिबे...

किस्सा कहिनी

Contact Us

नाम

ईमेल *

संदेश *

कला-संस्कृति-साहित्य

follow us

T-Twitter | F-Facebook | Y-Youtube | Instagram | Pinterest
महतारी भाखा के उरउती खातिर भारत के समाचार पत्र के पंजीयक कार्यालय नई दिल्ली म पंजीकृत ' अंजोर ' छत्तीसगढ़ी मासिक पत्रिका के anjor.online वेब संस्करण म छत्तीसगढ़ी बुलेटिन, किस्सा-कहानी अउ कला-मनोरंजन संग सोशल मीडिया के चारी, कुछ आन भाखा के अनुवाद समोखे, छत्तीसगढ़ के जन भाखा म जन-जन तक बगराथन। जुड़व ये उदीम - anjore.cg@gmail.com

सियानी गोठ

भारत के समाचारपत्रों के पंजीयक का कार्यालय नई दिल्ली
पंजीकरण संख्या-: CHHCHH/2014/56285