Home News Contact About
'अंजोर ' छत्तीसगढ़ी मासिक पत्रिका वेब संस्करण ---- anjore.cg@gmail.com

गोबर के दीया ले जगमगाही एसो के दसरहा अउ देवारी, स्व-सहायता समूह मन बनाये हाबे रंग-बिरंग के दीप


अंजोर.रायपुर,23। न दिल्ली, न चाइना अउ न ही आगरा, एसो तो दसरहा अउ देवारी म रायपुर जगमगाही बिहान म बने गोबर के दीया ले। कोरोना राई काहव या लोगन के जागरूकता अब लोकल कोति लोगन के सुध लामत हाबे। अब कतकोन जिनिस ल लोगन मन बिसाये ले बने तो घरे म बना डारत हाबे। येमा स्व-सहायता समूह के दीदी मन तको जबर बुता करत हाबे। आरो मिले हाबे के ओमन गोबर ले आनी-बानी के दीया बनाये हाबे, जेन अब बजार म बेचाही।
 
जानबा होवय के राज्य सरकार राष्ट्रीय अजीविका मिशन (एनआरएलएम) के माध्यम ले महिला मनला जोड़के ओमन ला आत्मनिर्भर बनाये अउ महिला सशक्तिकरण के दिशा म जबर बुता होवत हाबे। कोरिया जिला के बिहान के महिला मन गोबर ले रंग-बिरंग के सुघ्घयर दीय बनाये हाबे। येकर अलावा माटी के कलश तको बनावत हाबे। बिहान के दीदी मन लोगन के मांग अउ बाजार ल देखत गोबर अउ माटी ले दीपक, ओम, श्री, स्वास्तिक, शुभलाभ, फूल आरती दीया अउ कलश बनाये हाबे।

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

जोहार पहुना, मया राखे रहिबे...

किस्सा कहिनी

Contact Us

नाम

ईमेल *

संदेश *

कला-संस्कृति-साहित्य

follow us

T-Twitter | F-Facebook | Y-Youtube | Instagram | Pinterest
महतारी भाखा के उरउती खातिर भारत के समाचार पत्र के पंजीयक कार्यालय नई दिल्ली म पंजीकृत ' अंजोर ' छत्तीसगढ़ी मासिक पत्रिका के anjor.online वेब संस्करण म छत्तीसगढ़ी बुलेटिन, किस्सा-कहानी अउ कला-मनोरंजन संग सोशल मीडिया के चारी, कुछ आन भाखा के अनुवाद समोखे, छत्तीसगढ़ के जन भाखा म जन-जन तक बगराथन। जुड़व ये उदीम - anjore.cg@gmail.com

सियानी गोठ

भारत के समाचारपत्रों के पंजीयक का कार्यालय नई दिल्ली
पंजीकरण संख्या-: CHHCHH/2014/56285