Home News Contact About
'अंजोर ' छत्तीसगढ़ी मासिक पत्रिका वेब संस्करण ---- anjore.cg@gmail.com

कोरोना संक्रमित पीछु 1.50 लाख मिले बात पूरा लबारी आए, अइसन अफवाह ले बचव अउ लोगन ल तको बचाव : जिला प्रशासन


रायगढ.27। सोशल मीडिया म आजकल आनी-बानी के कोरोना ले लेके अफवाह बगरत हाबे। लोगन मन तको बिगर सच ल जाने उंकर बात म आके, अफवाह ल अऊ आन मन म बगरा देथे। कोरोना ल लेके सबले जादा अभी बीमार आदमी पीछु डेड़ लाख रूपिया मिले के झूठा खबर चलत हाबे। जे मनखे ते मुंह, बिगर ठोस जानकारी के लोगन मन बात ल पतियावत घलोक हाबे। जबकि प्रशासन ह कई पइत ये बात के खंडन कर चुके हावय के कोरोना संक्रमित मनके पीछु कोनो पइसा नइ मिलय। 

ये संबंध म रायगढ़ जिला प्रशासन तको जनता ल आरो करे हाबे के ये पूरा लबारी बात आए, राज्य अउ केंद्र सरकार के अइसन कोनो योजना नइये। केंद्र सरकार के सूचना प्रसारण संस्था पीआईबी ह तको येकर खंडन जारी करे हावय। निजी अस्पताल अउ लैब ल फायदा पहुंचाये के बात म रायगढ़ जिला प्रशासन किहिन के कोरोना वायरस खातिर कोनो भी निजी लैब ल मान्यता नइ दे गे हावय। संक्रमित मनके इलाज शासन डहर ले करे जावत हाबे। 

अइसन कोनो भी आदमी के आन-तान बात म नइ आए के अपील करत प्रशासन ह केहे हाबे के लबारी अउ भ्रामक खबर म धियान झिन देवा अऊ येला दूसर ल तको आगू प्रचार-प्रसार झिन करव नहिते नियमानुसार कार्यवाही करे जाही।

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

जोहार पहुना, मया राखे रहिबे...

किस्सा कहिनी

Contact Us

नाम

ईमेल *

संदेश *

कला-संस्कृति-साहित्य

follow us

T-Twitter | F-Facebook | Y-Youtube | Instagram | Pinterest
महतारी भाखा के उरउती खातिर भारत के समाचार पत्र के पंजीयक कार्यालय नई दिल्ली म पंजीकृत ' अंजोर ' छत्तीसगढ़ी मासिक पत्रिका के anjor.online वेब संस्करण म छत्तीसगढ़ी बुलेटिन, किस्सा-कहानी अउ कला-मनोरंजन संग सोशल मीडिया के चारी, कुछ आन भाखा के अनुवाद समोखे, छत्तीसगढ़ के जन भाखा म जन-जन तक बगराथन। जुड़व ये उदीम - anjore.cg@gmail.com

सियानी गोठ

भारत के समाचारपत्रों के पंजीयक का कार्यालय नई दिल्ली
पंजीकरण संख्या-: CHHCHH/2014/56285