Home News Contact About
'अंजोर ' छत्तीसगढ़ी मासिक पत्रिका वेब संस्करण ---- anjore.cg@gmail.com

छत्तीसगढ़ी सिनेमा बर दुखत खबर, नइ रिहिस कला के पुजारिन नेहा


रायपुर। कोरोनो काल म देशबंदी के बाद ले ही कलाकार मन उपर तको संकट के जबर छांव परगे हाबे। जम्मो सि‍नेमाघर के संगे-संग कार्यक्रम म तको रोक लगगे। अइसन म छोटे कलाकार मन बर तो मरे बिहान होगे। आजेच सोशल मीडिया ले दुखद आरो मिलिस के छत्तीसगढ़ी सिनेमा के नवा कलाकार नेहा साहू के अस्पताल म मउत होगे। कोरोना काल म यहू बात ल इतिहास सुरता करही के कोविड-19 के अलावा भूख, गरीबी अउ लाचारी तको काल बनके गरीब ल लील दीस। 
सिने कलाकार नेहा के निधन म छालीवुड के तमाम कलाकार मन दुखी मन ले सुरता करत हाबे। ये मउका म छत्तीसगढ़ के बड़का रंग निर्देशक योग मिश्रा जी ह लिखे हाबे के कुछ दिन पहिली नेहा ले फोन म गोठबात होए रिहिस तब ओमन बीमार नइ रिहिन। छत्तीसगढ़ फिल्म प्रोड्युसर एसोसिएशन ले मदद के अपील करे रिहिन तब लॉकडाउन म कुछ आर्थिक मदद करे रेहेन। छत्तीसगढ़ सिने एण्ड टेलिविजन प्रोड्यूसर एसोसिएशन (CCTP) अउ कुछ बड़का कलाकार मन छोटे कलाकार मनके अपन सक अनुसार आर्थिक मदद करत हाबे। फेर ये हा सुपरइन नइहे, सरकार कोति ले कोनो बड़का मदद के बिना। 
काम नहीं त पइसा नहीं, ऊपर ले घर के राशन खतम। अइसन बखत म जब नेहा बीमार होइस तब परिवार तको आन जगह म रिहिसे। कलाकार साथी मनके मदद ले ओमन अपन गृहग्राम पहुंचिन। जानकारी के मुताबिक कुछ दिन बाद पीलिया अउ पथरी जइसन छोटमुट बीमारी जेकर उपचार हावय, बने इलाज के अभाव म संघर्षशील कलाकार के मउत होगे। नेहा ल सुरता करत सिनेमा के साथी कलाकार याकूब खान लिखथे के बहुत दुख के बात आए के हमर फिलिम ‘वादा’ के बेहतरीन कलाकार अउ असिस्टेंट डायरेक्टर नेहा अब हमर बीच नइ रिहिस। कलाकार मोनिका जैन ह सुरता करत किथे के नेहा जबरदस्त कलाकार रिहिन ओमन छालीवुड म नाम अउ शोहरत कामाये बर आए रिहिसे।  

No comments:

Post a Comment

जोहार पहुना, मया राखे रहिबे...

किस्सा कहिनी

Contact Us

Name

Email *

Message *

कला-संस्कृति-साहित्य

follow us

T-Twitter | F-Facebook | Y-Youtube | Instagram | Pinterest
महतारी भाखा के उरउती खातिर भारत के समाचार पत्र के पंजीयक कार्यालय नई दिल्ली म पंजीकृत ' अंजोर ' छत्तीसगढ़ी मासिक पत्रिका के anjor.online वेब संस्करण म छत्तीसगढ़ी बुलेटिन, किस्सा-कहानी अउ कला-मनोरंजन संग सोशल मीडिया के चारी, कुछ आन भाखा के अनुवाद समोखे, छत्तीसगढ़ के जन भाखा म जन-जन तक बगराथन। जुड़व ये उदीम - anjore.cg@gmail.com

सियानी गोठ