Home News Contact About
'अंजोर ' छत्तीसगढ़ी मासिक पत्रिका वेब संस्करण ---- anjore.cg@gmail.com

छत्तीसगढ़ बनिस देस के पहिली राज्य जेन गोबर खरीद के पशुपालक ल पहुंचाही लाभ


  • हरेली ले सुरू होही ‘गोधन न्याय योजना’, गौठान के गोबर ले बनही वर्मी कम्पोस्ट 
  • गोबर के खरीदी के कीमत तय करही पांच सदस्यीय मंत्री मण्डल 

रायपुर.25। छत्तीसगढ़ म गाय पालन करइया मनला आर्थिक रूप ले लाभ पहुंचाये अउ ढिल्ला  किंजरत गरूवा मनके प्रबंधन के संगे-संग पर्यावरण के रक्षा खातिर छत्तीसगढ़ राज्यल म हरेली ले सुरू होही गोधन न्याय योजना। ए बात के जानकारी आज मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ह अपन निवास कार्यालय के सभाकक्ष म ऑनलाईन प्रेस कॉन्फ्रेंस के माध्यम ले दीस। 
ओमन बताइन के छत्तीसगढ़ सरकार ह बीते डेढ़ साल म छत्तीसगढ़ के चार चिन्हारी नरवा, गरूवा, घुरूवा, बारी के माध्यम ले राज्य के ग्रामीण अर्थव्यवस्था ल मजबूती प्रदान करे म सुघ्घर उदीम बने हाबे। राज्य के 2200 गांव म गौठान बनगे हाबे अउ 2800 गांव म गौठान बनाये के बुता चलत हाबे। अवइया दू-तीन महीना म लगभग 5 हजार गांव म अऊ गौठान बन जही। इहीं गौठान ल हम आजीविका केन्द्र के रूप म विकसित करत हाबन। इहा ले गजब मात्रा म वर्मी कम्पोस्ट के निर्माण भी महिला स्व-सहायता समूह के माध्यम ले होवत हाबे। 
गोधन न्याय योजना म पशुपालक मनले गोबर खरीदी के कीमत तय करे खातिर कृषि अउ जल संसाधन मंत्री रविन्द्र चौबे के अध्यक्षता म पांच सदस्यीय मंत्री मण्डलीय उप समिति गठित करे गे हाबे। जेमा वन मंत्री मोहम्मद अकबर, सहकारिता मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम, नगरीय प्रशासन मंत्री डॉ. शिव कुमार डहरिया, राजस्व मंत्री जयसिंह अग्रवाल जी मन शामिल हाबे। ये मंत्री मंडल समिति ह राज्य म किसान, पशुपालक, गौ-शाला संचालक अउ बुद्धिजीवी मनके सुझाव के अनुसार आठ दिन म गोबर के दर निर्धारित करही। येकर अलावा वर्मी कम्पोस्ट के उत्पादन से लेके उंकर बिक्री तक के प्रक्रिया के निर्धारण खातिर मुख्य सचिव के अध्यक्षता म प्रमुख सचिव अउ सचिव मनके एक कमेटी गठित करे गे हाबे।
पुशपालक ल अतिरिक्त आमदनी के संग रोजगार के अवसर तको बाढ़ही। साथ ही वर्मी कम्पोस्ट के जरिए हम जैविक खेती कोति जाबो। अऊ येकर तो बहुत बड़े मार्केट हावय। वर्मी कम्पोस्ट खाद के बिक्री सहकारी समिति के माध्यम ले होए के जानकारी मुखिया जी मन दीस। ये मउका म कृषि मंत्री रविन्द्र चौबे, गृह मंत्री ताम्रध्वज साहू, वन मंत्री मोहम्मद अकबर, सहकारिता मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम, नगरीय प्रशासन मंत्री डॉ. शिव कुमार डहरिया, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी मंत्री गुरू रूद्र कुमार, राजस्व मंत्री जयसिंह अग्रवाल, मुख्यमंत्री के पंचायत अउ ग्रामीण विकास सलाहकार प्रदीप शर्मा, मीडिया सलाहकार रूचिर गर्ग मनके अलावा राज्य के बड़का अधिकारी मन तको जुरियाए रिहिन।

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

जोहार पहुना, मया राखे रहिबे...

किस्सा कहिनी

Contact Us

नाम

ईमेल *

संदेश *

कला-संस्कृति-साहित्य

follow us

T-Twitter | F-Facebook | Y-Youtube | Instagram | Pinterest
महतारी भाखा के उरउती खातिर भारत के समाचार पत्र के पंजीयक कार्यालय नई दिल्ली म पंजीकृत ' अंजोर ' छत्तीसगढ़ी मासिक पत्रिका के anjor.online वेब संस्करण म छत्तीसगढ़ी बुलेटिन, किस्सा-कहानी अउ कला-मनोरंजन संग सोशल मीडिया के चारी, कुछ आन भाखा के अनुवाद समोखे, छत्तीसगढ़ के जन भाखा म जन-जन तक बगराथन। जुड़व ये उदीम - anjore.cg@gmail.com

सियानी गोठ

भारत के समाचारपत्रों के पंजीयक का कार्यालय नई दिल्ली
पंजीकरण संख्या-: CHHCHH/2014/56285