Home News Contact About
'अंजोर ' छत्तीसगढ़ी मासिक पत्रिका वेब संस्करण ---- anjore.cg@gmail.com

रोका-छेका संकल्प अभियान 19 जून ले, गांव अउ शहर म मवेशी नइ घुमे अब ढिल्ला

रायपुर.19। अक्ति माने के बाद ले ही गांव म किसानी के नवा दिन सुरू हो जथे। खातू-कचरा, कांटा-खूंटी अउ खेत के मेड़ मूही के काम पानी के गिरत ले चलथे। ये बखत तो गाय गरूवा मन ढिल्ला रिथे फेर धान के बोवई के बाद ले छेका-रोका हो जथे। अब एसो ले सरकार तको येमा चेत करत हाबे काबर के देखब आथे के कतको फसल ल तो ढिल्ला घुमइया मवेशी मन चर देथे। अइसन मन बर अब 19 ले 30 जून तक प्रदेश भर म अभियान चलाके गोठबात करे जाही। मवेशी मनके बंधेज होए ले किसान मन निसंसो होके दू फसली खेती कर सकथे। प्रदेश के मुखिया भूपेश बघेल ह जुन्ना प्रथा मनला अब नवाचार के रूप म फेर सुरता देवात किसान मनला बहुफसली खेती करे खातिर प्रेरित करत हाबे। 
येकर ले फसल तो सुरक्षित रइबे करही संगे-संग पशुधन मन तको बने रइही। कृषि, पंचायत, ग्रामीण विकास अउ नगरीय प्रशासन विभाग कोति ले मैदानी अधिकारी मन गांव अउ शहर म लोगन ल जागरूक करही। नरवा, गरवा, घुरवा, बारी योजना के तहत गांव-गांव म बने गौठान ह येमा जबर भूमिका अदा करही। मवेश मनला ठिकाना मिलही अउ किसान ल खेती खतिर जैविक खाद। मिले जानकारी के मुताबिक कोरोना ल देखत हुए सरकार के निर्देश ल निभावत शहर म तको ‘‘रोका-छेका संकल्प अभियान’’ चलाके पशुपालक मनले अपन तिर तखार ल बने साफ सुथरा राखत शहर ल तको साफ-सुथरा अउ दुर्घटनामुक्त राखे के संकल्प पत्र भरवाये जाही।

No comments:

Post a Comment

जोहार पहुना, मया राखे रहिबे...

किस्सा कहिनी

Contact Us

Name

Email *

Message *

कला-संस्कृति-साहित्य

follow us

T-Twitter | F-Facebook | Y-Youtube | Instagram | Pinterest
महतारी भाखा के उरउती खातिर भारत के समाचार पत्र के पंजीयक कार्यालय नई दिल्ली म पंजीकृत ' अंजोर ' छत्तीसगढ़ी मासिक पत्रिका के anjor.online वेब संस्करण म छत्तीसगढ़ी बुलेटिन, किस्सा-कहानी अउ कला-मनोरंजन संग सोशल मीडिया के चारी, कुछ आन भाखा के अनुवाद समोखे, छत्तीसगढ़ के जन भाखा म जन-जन तक बगराथन। जुड़व ये उदीम - anjore.cg@gmail.com

सियानी गोठ