Home News Contact About
'अंजोर ' छत्तीसगढ़ी मासिक पत्रिका वेब संस्करण ---- anjore.cg@gmail.com

कलाकार मनके बारे म तको सरकार ल सोचे ल परही : अनुज शर्मा

छत्तीसगढ़ी फिलिम के हीरो पद्मश्री अनुज शर्मा ह अपन जनम दिन के मउका म सोशल मीडिया के माध्यम ले दर्शक मन ले रूबरू होइन। हजारों दर्शक मनके मया आसिस अउ गीत के फरमाइस के बीच ओमन कलाकार मनके परिस्थिति ल तको साझा करिन। लॉकडाउन के बाद सबोच कलाकार मन घर बइठगे हाबे अऊ आगू का होही यहू बात बड़ चिंता करे के हाबे काबर के कोरोना ले अब तक पूरा तरह ले काबू नइ पाये जा सके हाबे। 
अनुज शर्मा आगू किथे के अब सरकार ल कलाकार मनके बारे म तको कुछू सोचे बर परही। धीरे-धीरे सबो जरूरी काम के शुरूआत होवथाबे, सामाजिक दूरी के साथ। फेर हमर काम के कुछूच आसार नइ दिखत हाबे। चिंता ये पाए के अऊ जादा होथे के सबोच काम म सामा‍जिक दूरी के बात होथे फेर हमर काम तो भीड़-भाड़ वाला आए। फिलिम सिनेमाघर म लगाये बर भीड़, मंचीय कार्यक्रम दे खातिर भीड़। यहू जानबा होए हाबे के जादा भीड़ वाला कोनो आयोजन के अनुमति नइये तब भला कलाकार मनके का होही। कला जगत ले जुरे लोगन मनके अर्थव्यवस्था गड़बड़ा जही। छोटे कलाकार मनके तो अऊ दुबर दिन आ जही। सबो बर सरकार कुछू न कुछू सोचत हाबे तव कलाकार मनके बारे म तको कुछ सोचय।

No comments:

Post a Comment

जोहार पहुना, मया राखे रहिबे...

किस्सा कहिनी

Contact Us

Name

Email *

Message *

कला-संस्कृति-साहित्य

follow us

T-Twitter | F-Facebook | Y-Youtube | Instagram | Pinterest
महतारी भाखा के उरउती खातिर भारत के समाचार पत्र के पंजीयक कार्यालय नई दिल्ली म पंजीकृत ' अंजोर ' छत्तीसगढ़ी मासिक पत्रिका के anjor.online वेब संस्करण म छत्तीसगढ़ी बुलेटिन, किस्सा-कहानी अउ कला-मनोरंजन संग सोशल मीडिया के चारी, कुछ आन भाखा के अनुवाद समोखे, छत्तीसगढ़ के जन भाखा म जन-जन तक बगराथन। जुड़व ये उदीम - anjore.cg@gmail.com

सियानी गोठ