Home News Contact About

विज्ञापन खातिर आरो करव-

jayantsahu9@gmail.com
'अंजोर ' छत्तीसगढ़ी मासिक पत्रिका वेब संस्करण ---- anjore.cg@gmail.com

मनेंद्रगढ़-चिरमिरी-भरतपुर अउ सक्ती छ.ग. के नवा जिला, 9 सितम्बर के शुभारम्भ... अंजोर छत्तीसगढ़ी म पढ़व पूरा खबर

Manendragarh-Chirmiri-Bharatpur and Sakti chhattisgarh new district

अंजोर.रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल प्रदेसवासी ल पाछु सप्ताह 3 नवा जिला  के सौगात दे के बाद 9 सितम्बर के 2 नवा जिला  के शुभारम्भ करत हावयं। मनेंद्रगढ़-चिरमिरी-भरतपुर 32वें अउ सक्ती 33वें जिला के रूप म अस्तित्व म आही। ए रकम ले प्रदेस म जिला  के संख्या बढ़ के 33 हो जाही। दुनों नवा जिला  के गठन ले ये क्षेत्र के जुन्ना मांग पूरा होए हावय। नवा जिला के गठन ले न केवल सरकारी कार्यक्रम के बढि़या क्रियान्वयन होही बल्कि लोगन ल कई रकम ले के सार्वजनिक सुविधा तको मिलही। 

लोगन के प्रशासनिक बुता के खातिर जादा दूरी तय नइ करना परय 

मनेन्द्रगढ़-चिरमिरी-भरतपुर कोरिया जिला ले अलग होके अउ जांजगीर-चांपा ले अलग होके सक्ती जिला नवा प्रशासनिक इकाई के रूप म अस्तित्व म आत हावय। नवा  जिला के गठन के लेके मनेन्द्रगढ़-चिरमिरी-भरतपुर के सुदूर वनांचल क्षेत्र म अउ सक्ती म अभूतपूर्व हर्ष व्याप्त हावय। नया जिला अस्तित्व म आने ले क्षेत्र म विकास के नवा धारा बोहाही, विकास के गति अउ तेज होही। पहुंचविहीन क्षेत्र म विकास बुता, शिक्षा, स्वास्थ्य, खाद्यान्न, इंटरनेट अउ रोड कनेक्टिविटी के खातिर अउ बढि़या बुता करे  जाही।

नवा जिला  के सुरू मउका म मुख्यमंत्री भूपेश बघेल दुनों जिला  म 353 करोड़ 79 लाख 23 हजार रूपिया के विकास बुता के सौगात दिही। ए दिन मनेंद्रगढ़ म 187 करोड़ 04 लाख 66 हजार रूपिया के 09 बुता के भूमिपूजन अउ 13 करोड़ 68 लाख 57 हजार रूपिया के 06 बुता के लोकार्पण करे जाही। उहे सक्ती म 85 करोड़ 20 लाख रूपिया के 296 विकास बुता के भूमिपूजन अउ 67 करोड़ 85 लाख 99 हजार रूपिया के 13 बुता के लोकर्पण होही।

नवीन जिला मनेन्द्रगढ़-चिरमिरी-भरतपुर सरगुजा संभाग के ले होही। जिला म कुल गांव के संख्या 376 हावय। इहां 13 राजस्व निरीक्षक मण्डल अउ 87 पटवारी हल्का हावय।  इहां मनेन्द्रगढ़, भरतपुर अउ खड़गवां अनुविभाग अउ मनेन्द्रगढ़, केल्हारी, भरतपुर, खड़गवां, चिरमिरी अउ कोटाडोल तहसील होही। इहां 5 नगरीय निकाय जेमे नगरपालिका निगम चिरमिरी, नगरपालिका परिषद मनेन्द्रगढ़, नगर पंचायत झगराखांड़, नगर पंचायत खोंगापानी अउ नगर पंचायत नवा लेदरी सामिल हावयं। नवगठित जिला म अमृतधारा जलप्रपात, सिद्धबाबा मंदिर (मनेन्द्रगढ़) सीतामढ़ी-हरचौका(रामवनगमन पर्यटन परिपथ) भरतपुर, रमदहा जलप्रपात जइसे पर्यटन जगह तको सामिल हावयं।

इही रकम ले नया जिला सक्ती बिलासपुर संभाग के ले होही। जिला सक्ती म उपखंड सक्ती के तहसील सक्ती, मालखरौदा, जैजैपुर अउ उपखंड डभरा के तहसील डभरा सहित कुल 5 तहसीलें सामिल होही। सक्ती जिला म 18 राजस्व निरीक्षक मंडल सामिल होही। 2011 जनगणना के मुताबिक जिला के आबादी 6,47,254 हावय। सक्ती जिला म 319 गांव पंचायतें, 6 नगरीय निकाय सामिल होही। नवगठित जिला म चंद्रहासिनी महतारी मंदिर चंद्रपुर, अड़भार अष्टभुजी महतारी मंदिर, रेनखोल, दमऊदरहा जइसे पर्यटन जगह तको सामिल हावयं।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

जोहार पहुना, मया राखे रहिबे...

किस्सा कहिनी

सियानी गोठ

स्‍वामी/ प्रकाशक/ मुद्रक – जयंत साहू
संपादकीय कार्यालय – डूण्डा, सेजबहार रायपुर, छत्‍तीसगढ़ 492015
सिटी कार्यालय - पानी टंकी के सामने, अमलीडीह रायपुर छत्तीसगढ़
वाट्सअप- 9826753304
ई मेल : jayantsahu9@gmail.com
भारत के समाचारपत्रों के पंजीयक का कार्यालय नई दिल्ली
पंजीकरण संख्या-: CHHCHH/2014/56285