Home News Contact About

विज्ञापन खातिर आरो करव-

jayantsahu9@gmail.com
'अंजोर ' छत्तीसगढ़ी मासिक पत्रिका वेब संस्करण ---- anjore.cg@gmail.com

‘छत्तीसगढ़ महतारी दुलार योजना’ ले कोविड ले अनाथ होए लइका मनके संरक्षण करही भूपेश सरकार


अंजोर.रायपुर, 13 मई 2021। कोविड के खिलाफ लड़ाई के बखत छत्तीसगढ़ सरकार ह एक अइसे फइसला लिस हावय जेन कोविड पीड़ित मनके कुछ आंसू पोंछ सकही। कोविड के निर्मम प्रहार के चलत जेन लइका के सब कुछ छीन गे हावय, अब छत्तीसगढ़ सरकार उंकर संबल बनही अउ न केवल उंकर शिक्षा के दायित्व उठाही बल्कि उंकर भविष्य संवारे के हर संभव कोशिश भी करही। सरकार के ए संवेदनशील पहल ल अमली जामा पहनाये जाही ‘छत्तीसगढ़ महतारी दुलार योजना’ के माध्यम ले। ये योजना ए वित्तीय साल ले लागू करे जाही। 

अइसे लइका जेन अपन माता-पिता ल ये वित्तीय साल के बखत कोरोना के सेती खो दे हावय, उनकर पढ़ाई के पूरा खर्च अब छत्तीसगढ़ सरकार उठाही। संग ही पहिली ले आठवीं तक के अइसे लइका ल 500 रूपिया हरमाह अउ 9 वीं ले 12 वीं तक के लइका ल 1000 रूपिया हरमाह के छात्रवृत्ति भी राज्य सरकार डहर ले दे जाही। शासकीय या प्राईवेट कोनो भी स्कूल म पढ़ई करे म ये लइका छात्रवत्ति के खातिर पात्र होही।

येकर संग ही राज्य सरकार डहर ले ये भी फइसला ले गे हावय के अइसे लइका जेकर परिवार म रोजी-रोटी कमाने वाला मुख्य सदस्य के मृत्यु कोरोना ले हो गे हावय, उहू लइका के पढ़ाई के बेवस्था भी राज्य सरकार डहर ले करे जाही। राज्य सरकार डहर ले ये भी फइसला लिस हावय के यदि ये लइका राज्य म सुरू करे गे स्वामी आत्मानंद इंग्लिश मीडियम स्कूल म प्रवेश बर आवेदन देत हावयं तो ओला प्राथमिकता ले प्रवेश दे जाही अउ उंकर ले कोनो भी रकम के फीस नइ ले जाही।

कोरोना महामारी ह न जाने कितको घर म अंधियार कर दे हावय अउ न जाये कितना लइका के सिर ले उंकर मा-बाप के सहारा छीन ले हावय। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के नेतृत्व म छत्तीसगढ़ सरकार डहर ले जरूरतमंद ल हर रकम के सहारा मुहैया कराये जात हावय। मुख्यमंत्री के ये संवदेनशील पहल ये बेसहारा लइका के बढि़या भविष्य निर्माण म काफी सहायक होही।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

जोहार पहुना, मया राखे रहिबे...

किस्सा कहिनी

Contact Us

नाम

ईमेल *

संदेश *

स्‍वामी/ प्रकाशक/ मुद्रक – जयंत साहू
संपादकीय कार्यालय – डूण्डा, सेजबहार रायपुर, छत्‍तीसगढ़ 492015
वाट्सअप- 9826753304
ई मेल : jayantsahu9@gmail.com

कला-संस्कृति-साहित्य

follow us

Twitter Twitter
Facebook Facebook
Youtube Youtube
महतारी भाखा के उरउती खातिर भारत के समाचार पत्र के पंजीयक कार्यालय नई दिल्ली म पंजीकृत ' अंजोर ' छत्तीसगढ़ी मासिक पत्रिका के anjor.online वेब संस्करण म छत्तीसगढ़ी बुलेटिन, किस्सा-कहानी अउ कला-मनोरंजन संग सोशल मीडिया के चारी, कुछ आन भाखा के अनुवाद समोखे, छत्तीसगढ़ के जन भाखा म जन-जन तक बगराथन। जुड़व ये उदीम - anjore.cg@gmail.com

सियानी गोठ

भारत के समाचारपत्रों के पंजीयक का कार्यालय नई दिल्ली
पंजीकरण संख्या-: CHHCHH/2014/56285