Home News Contact About
'अंजोर ' छत्तीसगढ़ी मासिक पत्रिका वेब संस्करण ---- anjore.cg@gmail.com

मंत्री गुरु रूद्रकुमार सतनाम संदेश यात्रा म होइन शामिल, जैतखाम कोसा साड़ी के करिन विमोचन


अंजोर.रायपुर। लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी अउ ग्रामोद्योग मंत्री गुरु रूद्रकुमार आज मंदिर हसौद ले निकले सतनाम संदेश यात्रा म शामिल होइन। गुरु अगमदास जयंती के मउका म सतनाम संदेश यात्रा के पांचवां चरण म मंदिर हसौद ले सरायपाली तक ये यात्रा निकाले गिस। ये सतनाम संदेश यात्रा गुरु बाबा अगमदास जी के स्मृति म सतनाम पंथ के प्रणेता बाबा गुरु घासीदास जी के जीवन कृति व सतनाम धर्म के उपदेश, सामाजिक एकता, भाईचारा विश्व बंधुत्व अउ शांति के संदेश देवइया हावय।

ये मउका म ग्रामोद्योग मंत्री गुरु रुद्रकुमार ह बुनकर मन कोति ले तैयार जैतखाम कोसा साड़ी के सतनामी समाज के प्रमुख मनके उपस्थिति म विमोचन करिन। ओमन किहिन के बुनकर ह अपनी कल्पनाशीलता ले बाबा गुरु घासीदास जी अउ सतनामी समाज के आस्था के प्रतीक जैतखाम ल बखूबी साड़ी म डिजाइन के रूप म बुनाई करे हावय जे सराहनीय हावय। ये जैतखाम कोसा साड़ी निश्चित तौर म महिला मनके पहली पसंद बनही। 

जानबा हावय के ग्रामोद्योग मंत्री गुरु रूद्रकुमार हाथकरघा संघ ल छत्तीसगढ़ राज्य के परंपरागत कला संस्कृति ल बढ़ाये अउ नवाचार लाने ल किहिन। विभाग के अधिकारी ह बताइन के जैतखाम कोसा साड़ी  जांजगीर-चांपा जिला के चंद्रपुर के बुनकर कोति ले तैयार करे गे हावय। ये साड़ी छत्तीसगढ़ राज्य हाथकरघा विकास अउ विपणन सहकारी संघ के बिलासा शोरूम म विक्रय के खातिर उपलब्ध रइही। कार्यक्रम के दौरान सतनामी समाज के युवा ह पंथी नृत्य अउ शौर्य प्रदर्शन करत सतनाम संदेश यात्रा म शामिल होइन। ये मउका म गुरु प्रवक्ता डॉ.एम.के.कौशल, सतनामी समाज के राजमहंत, जिला महंत, ब्लॉक महंत, अपेक्स के सचिव एन.के.चंद्राकर, हाथकरघा संघ के अधिकारी-कर्मचारी सहित सर्वधर्म के नागरिक उपस्थित रिहिस।

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

जोहार पहुना, मया राखे रहिबे...

किस्सा कहिनी

Contact Us

नाम

ईमेल *

संदेश *

कला-संस्कृति-साहित्य

follow us

T-Twitter | F-Facebook | Y-Youtube | Instagram | Pinterest
महतारी भाखा के उरउती खातिर भारत के समाचार पत्र के पंजीयक कार्यालय नई दिल्ली म पंजीकृत ' अंजोर ' छत्तीसगढ़ी मासिक पत्रिका के anjor.online वेब संस्करण म छत्तीसगढ़ी बुलेटिन, किस्सा-कहानी अउ कला-मनोरंजन संग सोशल मीडिया के चारी, कुछ आन भाखा के अनुवाद समोखे, छत्तीसगढ़ के जन भाखा म जन-जन तक बगराथन। जुड़व ये उदीम - anjore.cg@gmail.com

सियानी गोठ

भारत के समाचारपत्रों के पंजीयक का कार्यालय नई दिल्ली
पंजीकरण संख्या-: CHHCHH/2014/56285