Home News Contact About
'अंजोर ' छत्तीसगढ़ी मासिक पत्रिका वेब संस्करण ---- anjore.cg@gmail.com

नरवा, गरवा, घुरवा, बारी योजना ये मिले भुइंया म अब रायपुर जिला के चपरीद, गुल्लू, अकोलीकला अउ नवागांव के महिला समू‍ह मन करत हाबे सब्जी-भाती के खेती



रायपुर.19। किसानी बुता म किसान ह परिवार सुद्धा जीव होम कमाथे, तभे पेट ल चलाथे। जेकर कना खेती है हावय ते मन तो निसफिकिर कमाथे अऊ नइये ते मनला बनि-भूति नइ मिले डर रहिथे। अब अइसन किसानी बुता करइया मन खातिर नरवा, गरवा, घुरवा, बारी योजना ले सरकार ह गांव के महिला समूह ल बारी बोए खातिर गांवे म भुइंया देवत हाबे। 

रायपुर जिला प्रशासन कोति ले मिले आरो के मुताबिक सामुदायिक बारी लगाके जिला के महिला मन सुघ्घर सब्जी-भाजी के खेती करत हाबे। जेमा आरंग विकासखंड के ग्राम चपरीद म गठित महिला स्व-सहायता समूह ‘जय मां चण्डी’ के महिला सदस्य मन 2 एकड़ के सामुदायिक बारी म बरबटी, लौकी, भिण्डी, तरोई, कद्दू अऊ आन सब्जी लगाये हाबे। 

अइसने ग्राम गुल्लू म गठित महिला स्व सहायता समूह ‘जय गंगा मईया’ ह 2.5 एकड़ सामुदायिक बारी म बरबटी, करेला, भिण्डी, सेमी अऊ आन सब्जी लगाये हाबे। ग्राम अकोलीकला म गठित महिला स्व सहायता समूह ‘तिरंगा स्व सहायता समूह’ के महिला मन 2.5 एकड़ सामुदायिक बारी म बरबटी, कद्दू, भिण्डी, लौकी अऊ आन सब्जी लगाये हाबे। 

अइसने अभनपुर विकासखण्ड के ग्राम नवागांव 'ल' म गठित महिला स्व सहायता समूह ‘जय मां कर्मा महिला स्व सहायता समूह’ ह 1 एकड़ सामुदायिक बारी म गेंदा के पौधा लगाये हाबे जेन म बने बढ़वार दिखत हाबे। गांव के महिला मनके लगाये ये बारी ले निकलत साग-भाजी ल तुरते लोगन मन बिसा लेथे, गांवे म मिले के संग सब्जी ह ताजा अउ पौष्टिक वाला रिथे। घर बइठे येकर ले बने अऊ का चाहि, इहि ओढ़र म समूह के दीदी मनला बने आमदनी तको हो जथे।

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

जोहार पहुना, मया राखे रहिबे...

किस्सा कहिनी

Contact Us

नाम

ईमेल *

संदेश *

कला-संस्कृति-साहित्य

follow us

T-Twitter | F-Facebook | Y-Youtube | Instagram | Pinterest
महतारी भाखा के उरउती खातिर भारत के समाचार पत्र के पंजीयक कार्यालय नई दिल्ली म पंजीकृत ' अंजोर ' छत्तीसगढ़ी मासिक पत्रिका के anjor.online वेब संस्करण म छत्तीसगढ़ी बुलेटिन, किस्सा-कहानी अउ कला-मनोरंजन संग सोशल मीडिया के चारी, कुछ आन भाखा के अनुवाद समोखे, छत्तीसगढ़ के जन भाखा म जन-जन तक बगराथन। जुड़व ये उदीम - anjore.cg@gmail.com

सियानी गोठ

भारत के समाचारपत्रों के पंजीयक का कार्यालय नई दिल्ली
पंजीकरण संख्या-: CHHCHH/2014/56285