Home News Contact About
'अंजोर ' छत्तीसगढ़ी मासिक पत्रिका वेब संस्करण ---- anjore.cg@gmail.com

छत्तीसगढ़ रंगमंच बर बज्र दुख के बेरा, बड़का रंगकर्मी अजय आठले अउ सत्यजीत भट्टाचार्य हमर बीच नइ रिहिस


अंजोर.रायपुर,27। ये नश्वर दुनिया म एक दिन सबो ल जाना हाबे इही सोच के अब दुख ल साहत हावन, काबर के हमरे बीच के कोनो जाथे तव मन टूट जथे। छत्तीसगढ़ रंगकर्म ले जुरे लोगन बर आज के दिन बने नइ रिहिसे। बिहनिया ले ही दू बड़े रंगकर्मी के मउत के आरो मिलिस। रायगढ़ के अजय आठले अउ जगदलपुर के सत्यजीत भट्टाचार्य जी। दूनो अपन-अपन अंचल के स्थापित नाम रिहिन। अनेक नाटक म अभिनिय, निर्देशन अउ लेखन के साथ रंग के उस्ताद मनके जाये ले रंगजगत दुखी हावय। अउ ये मउका म छत्तीसगढ़ के तमाम रंगकर्मी मन उंकर आत्मा के शांति खातिर प्रार्थना करत परिवार संग संवेदना प्रकट करे हावय।

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

जोहार पहुना, मया राखे रहिबे...

किस्सा कहिनी

Contact Us

नाम

ईमेल *

संदेश *

कला-संस्कृति-साहित्य

follow us

T-Twitter | F-Facebook | Y-Youtube | Instagram | Pinterest
महतारी भाखा के उरउती खातिर भारत के समाचार पत्र के पंजीयक कार्यालय नई दिल्ली म पंजीकृत ' अंजोर ' छत्तीसगढ़ी मासिक पत्रिका के anjor.online वेब संस्करण म छत्तीसगढ़ी बुलेटिन, किस्सा-कहानी अउ कला-मनोरंजन संग सोशल मीडिया के चारी, कुछ आन भाखा के अनुवाद समोखे, छत्तीसगढ़ के जन भाखा म जन-जन तक बगराथन। जुड़व ये उदीम - anjore.cg@gmail.com

सियानी गोठ

भारत के समाचारपत्रों के पंजीयक का कार्यालय नई दिल्ली
पंजीकरण संख्या-: CHHCHH/2014/56285