Home News Contact About
'अंजोर ' छत्तीसगढ़ी मासिक पत्रिका वेब संस्करण ---- anjore.cg@gmail.com

आंगनबाड़ी कार्यकर्ता श्रीमती भानबती ह पंडवानी विधा म गावत हाबे सुपोषण के गीत, ग्राम बघमर्रा-खैरागढ़ के नवाचार


अंजोर.राजनांदगांव,22। महिला अउ बाल विकास के बुता म सबसे माई मुड़ी, फेर विभाग के सबले आखरी कड़ी माने जाने वाला, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता के दीदी मन कोरोना काल म तको जबर उदीम करत सुपोषण के अलख जगावत हाबे। कमती मानदेय म बुता करइया आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, सहायिका मन बिपत के बेरा म तको नान्हे लइका, लइकोरी अउ गर्भवती मनके संग खड़े रिथे। 

लइका मनके नैतिक, बौद्धिक शिक्षा अउ अक्षर ज्ञान के साथ ही महतारी मनके तको बने जतन खातिर स्थानीय स्तर म ओमन गजब नवाचार करते रिथे। इही कड़ी म आजकल भानबती दीदी के पंडवानी गजब सुनावत हाबे। समाचार एजेंसी के मुताबिक राजनादंगांव जिला के खैरागढ़-छुईखदान अंचल के गांव बघमर्रा के आंगनबाड़ी कार्यकर्ता श्रीमती भानबती ह सुपोषण के सरी जानकारी ल पंडवानी तर्ज म खुदे गीत बनाये हाबे अउ उही ल गा-गाके समझाथे। एक कोति शासन-प्रशासन विज्ञापन के नाव म पइसा बरोथे तव दूसर कोति ले भानबती सहिक कार्यकर्ता मनके नवाचार ह सिरतोन म बड़ई के लइक हाबे।    

महिला बाल विकास विभाग अउ स्वास्थ्य विभाग ह नान्हे लइका अउ महतारी ला कुपोषण ले मुक्ति देवाये खातिर अभियान चलात हाबे जेमा आंगनबाड़ी कार्यकर्ता मनके अहम भूमिका हाबे। भानबती सहिक अऊ कतकोन कार्यकर्ता मन अपन-अपन स्तर म नवाचार करत समाज म सुपोषण के संदेश बगरावत हाबे।

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

जोहार पहुना, मया राखे रहिबे...

किस्सा कहिनी

Contact Us

नाम

ईमेल *

संदेश *

कला-संस्कृति-साहित्य

follow us

T-Twitter | F-Facebook | Y-Youtube | Instagram | Pinterest
महतारी भाखा के उरउती खातिर भारत के समाचार पत्र के पंजीयक कार्यालय नई दिल्ली म पंजीकृत ' अंजोर ' छत्तीसगढ़ी मासिक पत्रिका के anjor.online वेब संस्करण म छत्तीसगढ़ी बुलेटिन, किस्सा-कहानी अउ कला-मनोरंजन संग सोशल मीडिया के चारी, कुछ आन भाखा के अनुवाद समोखे, छत्तीसगढ़ के जन भाखा म जन-जन तक बगराथन। जुड़व ये उदीम - anjore.cg@gmail.com

सियानी गोठ

भारत के समाचारपत्रों के पंजीयक का कार्यालय नई दिल्ली
पंजीकरण संख्या-: CHHCHH/2014/56285