Home News Contact About
'अंजोर ' छत्तीसगढ़ी मासिक पत्रिका वेब संस्करण ---- anjore.cg@gmail.com

न्याय योजना के नाम म किसान मन संग 'अन्याय' करत हावय भूपेश सरकार : पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह


रायपुर.28। छत्तीसगढ़ विधानसभा के मानसून सत्र चलत हावय, जिहां सदस्य मन के सवाल के जवाब दे म मुखिया जी कोनो कमी नइ करत हाबे। काली के दिन उंकर समथर्न मूल्य अउ कर्जा के जवाब के बाद आज सोशल मीडिया के माध्यम ले पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ह सरकार ल घेरत किहिन के न्याय योजना के नाम किसान मन संग अन्याय करत हाबे भूपेश सरकार। 

ओमन आगू किथे के सरकार ह धान के 2500 रुपिया समर्थन मूल्य देके वादा करे हावय फेर अब हजारों करोड़ रुपिया कर्जा ले के बाद तको किसान मनला किश्त म पइसा देवत हाबे, ये सरासर अन्याय आए। अनुपूरक बजट म समर्थन मूल्य दे खातिर सिरिफ 300 करोड़ के राशि रखे गे हावय, बाकी पइसा कहां ले देही सरकार?

डॉ. सिंह किथे के हमर सरकार के वित्तीय प्रबंधन ल आरबीआई ले लेके देश के नामी वित्तीय संस्था मन सहराये रिहिन। ओ बखत छत्तीसगढ़ वित्तीय सुप्रबंधन म देश म अव्वल स्थान म रेहेन। सोशल मीडिया म अइसन सवाल करे के बाद ले ही रमन सिंह जी के पोस्ट म सवाल अउ जवाब के टिका-टिप्पणी शुरू होगे हावय।

 


कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

जोहार पहुना, मया राखे रहिबे...

किस्सा कहिनी

Contact Us

नाम

ईमेल *

संदेश *

कला-संस्कृति-साहित्य

follow us

T-Twitter | F-Facebook | Y-Youtube | Instagram | Pinterest
महतारी भाखा के उरउती खातिर भारत के समाचार पत्र के पंजीयक कार्यालय नई दिल्ली म पंजीकृत ' अंजोर ' छत्तीसगढ़ी मासिक पत्रिका के anjor.online वेब संस्करण म छत्तीसगढ़ी बुलेटिन, किस्सा-कहानी अउ कला-मनोरंजन संग सोशल मीडिया के चारी, कुछ आन भाखा के अनुवाद समोखे, छत्तीसगढ़ के जन भाखा म जन-जन तक बगराथन। जुड़व ये उदीम - anjore.cg@gmail.com

सियानी गोठ

भारत के समाचारपत्रों के पंजीयक का कार्यालय नई दिल्ली
पंजीकरण संख्या-: CHHCHH/2014/56285