Home News Contact About
'अंजोर ' छत्तीसगढ़ी मासिक पत्रिका वेब संस्करण ---- anjore.cg@gmail.com

छत्तीसगढ़ के बड़का 14 डेम लबालब, सरलग पानी बरसे के सेती राज्य के जलाशय म 83.55 प्रतिशत औसत जलभराव

रायपुर.22। छत्तीसगढ़ म गिरत सरलग पानी ले बांध के जल स्तर बढ़हत हावय। राज्य के 17 जिला के 44 प्रमुख जलाशय म आज के स्थिति म 83.55 प्रतिशत औसत जलभराव होए हावय। देखव कोनो जिला के कोन से डेम म कतका पानी भरे हावय- 

कोरबा जिला के मिनी माता-बांगो जलाशय म 89.74 प्रतिशत, धमतरी जिला के रविशंकर सागर म 68.13 प्रतिशत, सोंढ़ुर म 85.81 प्रतिशत, मुरूमसिल्ली म 90.73 प्रतिशत, बालोद जिला के तान्दुला जलाशय म 45.84 प्रतिशत, खरखरा म 81.12 प्रतिशत, गोंदली म 66.12 प्रतिशत, कांकेर जिला के दुधावा म 85.32 प्रतिशत, परालकोट म 28.70 प्रतिशत, मयाना म 26.38 प्रतिशत अउ गरियाबंद जिला के सिकासार जलाशय म 44.99 प्रतिशत अउबिलासपुर जिला के खारंग एवं घोंघा जलाशय म 100 प्रतिशत तथा अरपा भैंसाझार बैराज म 47.77 प्रतिशत जल भराव होए हावय।

महासमुंद जिला के कोडार जलाशय म 66.93 प्रतिशत, केशवा जलाशय म 98.43 प्रतिशत,मुंगेली जिला के मनियारी जलाशय म 100 प्रतिशत, रायगढ़ जिला के खम्हारपाकुट, केदारनाला एवं पुटकानाला म 100 प्रतिशत, किनकारी नाला म 91.64 प्रतिशत तथा केलो जलाशय म 32.98 प्रतिशत, बस्तर जिला के कोसारटेडा म 100 प्रतिशत, सरगुजा जिला के श्याम जलाशय म 93.88 प्रतिशत, बंकी जलाशय म 31.63 प्रतिशत, कुंवरपुर अउबरनई जलाशय म 100 प्रतिशत जल भराव होए हावय। 

कबीरधाम जिला के क्षीरपानी जलाशय म 97.85 प्रतिशत, सुतियापाट म 93.60 प्रतिशत, सरोदा म 100 प्रतिशत, कर्रानाला बैराज म 94.53 प्रतिशत, बहेराखार जलाशय म 59.59 प्रतिशत, राजनांदगांव जिला के पिपरिया नाला म 71.79 प्रतिशत, मोंगरा बैराज म 75.98 प्रतिशत, मटियामोती म 84.48 प्रतिशत, रूसे जलाशय म 32.14 प्रतिशत अउधारा जलाशय म 27.17 प्रतिशत, बलौदाबाजर जिला के बल्लार जलाशय म 100 प्रतिशत, दुर्ग जिला के मरोदा म 66.77 प्रतिशत, खपरी जलाशय म 85.62 प्रतिशत, कोरिया जिला के झुमका एवं गेज जलाशय म 100 प्रतिशत अउरायपुर जिला के पेन्ड्रावन जलाशय म 100 प्रतिशत तथा कुम्हारी जलाशय म 76.30 प्रतिशत जलभराव होए हावय।

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

जोहार पहुना, मया राखे रहिबे...

किस्सा कहिनी

Contact Us

नाम

ईमेल *

संदेश *

कला-संस्कृति-साहित्य

follow us

T-Twitter | F-Facebook | Y-Youtube | Instagram | Pinterest
महतारी भाखा के उरउती खातिर भारत के समाचार पत्र के पंजीयक कार्यालय नई दिल्ली म पंजीकृत ' अंजोर ' छत्तीसगढ़ी मासिक पत्रिका के anjor.online वेब संस्करण म छत्तीसगढ़ी बुलेटिन, किस्सा-कहानी अउ कला-मनोरंजन संग सोशल मीडिया के चारी, कुछ आन भाखा के अनुवाद समोखे, छत्तीसगढ़ के जन भाखा म जन-जन तक बगराथन। जुड़व ये उदीम - anjore.cg@gmail.com

सियानी गोठ

भारत के समाचारपत्रों के पंजीयक का कार्यालय नई दिल्ली
पंजीकरण संख्या-: CHHCHH/2014/56285