Home News Contact About
'अंजोर ' छत्तीसगढ़ी मासिक पत्रिका वेब संस्करण ---- anjore.cg@gmail.com

पंथी नृत्य के पुरोधा स्व. देवदास बंजारे के सुरता म सतनामी आश्रम कसारीडीह म होही कार्यक्रम

दुर्ग.25। पंथी नृत्य के माध्यम ले बाबा गुरू घासीदास के महिमा ल देश-विदेश म बगरइया महान पंथी नर्तक स्व. देवदास बंजारे जी के पुण्यतिथि 26 अगस्त के दिन पंथी कला अउ साहित्य विकास समिति, सतनाम युवा विंग अउ जिला सतनामी समाज दुर्ग डहर ले सुरता कार्यक्रम आयोजित करे हे हावय। सतनामी आश्रम कसारीडीह दुर्ग म 3 बजे ले आयोजित होवइया कार्यक्रम म पहुना के रूप म विशेष रूप ले पद्मविभूषण डॉ. तीजन बाई के अलावा सर्वश्री भुनेश्वर बघेल, अरूण वोरा अउ पुराणिक लाल चेलक संग अऊ गजब झिन समाज के सियान, पंथी कलाकार मन जुरियाही। 

जानबा होवय के स्व. देवदास बंजारे ह पंथी नृत्य के माध्यम ले बाबा जी के संदेश ल देश दुनिया म बगराये के जबर बुता करे हाबे। ओमन नाट्य सम्राट हबीब साहब के संग लंदन, एडिनबर्ग, हेम्बहर्ग, एस्टरडम, कनाडा, ग्लासगो, पेरिस अऊ कई देश म पंथी नृत्य के डंका बजाइन। जेन भी देवदास के पंथी ल एक पइत देखे ओतो ओकर नृत्य के दास हो जाए, मन मोहक मांदर के थाप अउ झांझ के ताल के बीच बाबा जी के संदेश संग अद्भुत नृत्य कला। विदेश अलावा कई राज्य म उंकर पंथी के प्रदर्शन होए हाबे, राजपथ म तको ओमन ल प्रदर्शन करे के सौभाग्य मिले हाबे। 

अइसन महान कलाकार के जनम 1 जनवरी 1947 के तत्कालीन रायपुर जिला के धमतरी तहसील के अंतर्गत एक छोटकन गांव सांकरा म होए हाबे। दुनिया म संघर्ष अउ सफलता के जबर डाढ़ी खींच के 26 अगस्त 2005 के ओमन अम्मर होगे। आज हमर बीच देवदास बंजारे भले नइये फेर ओकर बुता ल आगू बढ़इया उही परंपरा के पंथी कलाकार दल मन गांव-गांव म उंकर नाव जगावत हाबे। अइसन महान कलाकार के सुरता म छत्तीसगढ़ सरकार कोति ले सम्मान तको दे जाथे पंथी के क्षेत्र म जबर योगदान देवइया कलाकार मनला।

देवदास बंजारे जी के बारे म अऊ पढ़व - 

aarambha.blogspot.com


कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

जोहार पहुना, मया राखे रहिबे...

किस्सा कहिनी

Contact Us

नाम

ईमेल *

संदेश *

कला-संस्कृति-साहित्य

follow us

T-Twitter | F-Facebook | Y-Youtube | Instagram | Pinterest
महतारी भाखा के उरउती खातिर भारत के समाचार पत्र के पंजीयक कार्यालय नई दिल्ली म पंजीकृत ' अंजोर ' छत्तीसगढ़ी मासिक पत्रिका के anjor.online वेब संस्करण म छत्तीसगढ़ी बुलेटिन, किस्सा-कहानी अउ कला-मनोरंजन संग सोशल मीडिया के चारी, कुछ आन भाखा के अनुवाद समोखे, छत्तीसगढ़ के जन भाखा म जन-जन तक बगराथन। जुड़व ये उदीम - anjore.cg@gmail.com

सियानी गोठ

भारत के समाचारपत्रों के पंजीयक का कार्यालय नई दिल्ली
पंजीकरण संख्या-: CHHCHH/2014/56285