Home News Contact About
'अंजोर ' छत्तीसगढ़ी मासिक पत्रिका वेब संस्करण ---- anjore.cg@gmail.com

दू कोरी ले आगर कलाकार मन एक्के संघरे छत्तीसगढ़ के महिमा बगराही, नवा रायपुर म चलत हाबे शूटिंग, स्थापना दिवस म होही रिलीज


कला-संस्कृति। छत्तीसगढ़ के पारंपरिक लोक संस्कृति के महिमा बगराये खातिर जम्मो कलाकार मन जुरियाइन एके मंच म। अइसन पहिली पइत देखे बर मिलिस के जब बड़े-बड़े निर्माता, निर्देशक, अभिनेता-अभिनेत्री, गायक-गायिका अऊ आन कलाकार मन एक साथ काम करत हाबे। छत्तीसगढ़ी फिलिम के निर्माता रॉकी दासवानी कोति ले मिले आरो के मुताबिक लगभग पांच मिनट के एक गीत बनत हाबे जेमा छत्तीसगढ़ी भाखा, गीत-संगीत, कला-साहित्य, खान-पान, धार्मिक, पुरातात्विक अउ पर्यटन ठउर के दर्शन होही। 

घनश्याम महानन्द के सुमधुर संगीत संयोजन म गीत ल गाये हाबे सुनील सोनी, अनुराग शर्मा, अनुज शर्मा, गरिमा दिवाकर अउ घनश्याम महानंद। गाना के शूटिंग आजकल नवा रायपुर के पुरखौती मुक्तांगन म चलत हाबे। ये गीत म कोरियोग्राफी करत हावय छॉलीवुड के बड़का डांस मास्टर निशांत उपाध्याय। जानकारी के मुताबि‍क ये निर्माता रॉ‍की दासवानी के सपना आए, जेमा ओमन पाछु एक बछर ले बुता करत रिहिन। अब जाके उंकर सपना पुरा होवत हाबे अऊ गाना के शूटिंग लगभग पूरा होवइया हावय।

सोशल मीडिया म जारी झलकीयां के मुताबिक येमा निर्माता-निर्देशक म प्रमुख रूप ले मोहन सुंदरानी, सतीश जैन, संतोष जैन, प्रेम चंद्राकर, श्रमानिधी मिश्रा, अलक राय, मनोज वर्मा अउ दिलीप षडंगी संग स्वयं रॉकी दासवानी स्क्रीन म नजर आही। येकर अलावा अभिनेता म पद्मश्री अनुज शर्मा, प्रकाश अवस्थी, सुनील तिवारी, मन कुरैशी, अशरफ अली, दिलेश साहू, आकाश सोनी संग अभिनेत्री मोना सेन, गरिमा दिवाकर, अनिकृति चौहान, मनीषा वर्मा, सोनाली सहारे, अनुपमा मनहर अउ रूना शर्मा सामिल हावय। 

गजब दिन बाद कोरोना राई के सेती सरकार के दिशा-निर्देश के पालन करत आने-आने दिन अंते ठउर म शूटिंग होए हाबे। जानकार मनके मुताबिक ये एक गीत लगभग पूरा छॉलीवुड नजर आही। अभिनेता-‍अभिनेत्री मनके अलावा आन प्रमुख चरित्र कलाकार म उपासना वैष्णव, प्रदीप शर्मा, उर्वशी साहू, अनुराधा दुबे, छाया चंद्राकर, रामदत्त जोशी, प्रभा जोशी के अलावा अऊ केऊ झिन कलाकार मन ये गीत म दिखही। जब ले दर्शक मन सोशल मीडिया ले आरो पाये हाबे तब ले गोरा दिन टोर्रस लागे बर धर ले हावय। जब अतेक बड़े-बड़े कलाकार मन काम करत हाबे तव गाना कइसे होही येकर बारे म सोचेच के जरूरत नइये, हब ले आही राज्य स्थापना दिवस अऊ देखबोन ये सुघ्घर महिमा गीत।





कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

जोहार पहुना, मया राखे रहिबे...

किस्सा कहिनी

Contact Us

नाम

ईमेल *

संदेश *

कला-संस्कृति-साहित्य

follow us

T-Twitter | F-Facebook | Y-Youtube | Instagram | Pinterest
महतारी भाखा के उरउती खातिर भारत के समाचार पत्र के पंजीयक कार्यालय नई दिल्ली म पंजीकृत ' अंजोर ' छत्तीसगढ़ी मासिक पत्रिका के anjor.online वेब संस्करण म छत्तीसगढ़ी बुलेटिन, किस्सा-कहानी अउ कला-मनोरंजन संग सोशल मीडिया के चारी, कुछ आन भाखा के अनुवाद समोखे, छत्तीसगढ़ के जन भाखा म जन-जन तक बगराथन। जुड़व ये उदीम - anjore.cg@gmail.com

सियानी गोठ

भारत के समाचारपत्रों के पंजीयक का कार्यालय नई दिल्ली
पंजीकरण संख्या-: CHHCHH/2014/56285