Home News Contact About
'अंजोर ' छत्तीसगढ़ी मासिक पत्रिका वेब संस्करण ---- anjore.cg@gmail.com

Raksha Bandhan 2020: रक्षाबंधन बधाई संदेश, राखी फोटो, राखी ग्रीटिंग, रक्षाबंधन सांग

राखी तिहार के बधाई दे खातिर छत्तीसगढ़ी म ग्रीटिंग कार्ड इहां ले अब डाउनलोड करे जा सकही। लोगन मन अब अक्सर अपन तीज तिहार म एक दूसर ल बधाई दे खातिर इंटरनेट ले ही फोटो या ग्रीटिंग खोजथे इही पाके हम छत्तीसगढ़ी म कुछ कार्ड बनाके अपलोड करत हाबन। संगी मन येला डाउनलोड करके अपन भाखा म बधाई देवव अपन मयारूक भाई बहिनी मनला।

रक्षाबंधन कब है 

  • रक्षाबंधन यानी राखी के तिहार एसो 3 अगस्त के परत हावय। इही दिन सावन महीना के आखरी सोमवार परही। ये सेती 3 अगस्त के राखी के तिहार ल गजब शुभ माने जावत हाबे। भाई बहिनी के मया पिरित के परख राखी के‍ दिन सावन के आखरी सोमवार परे ले लोगन मन ऐला सुखद संयोग मानत दिन भर ल ही शुभ मुहूर्त केहे हाबे। 

रक्षाबंधन का गाना

  • रक्षा बंधन यानी राखी के तिहार छत्तीसगढ़ के लोक जीवन म जादा जुन्ना नी जनाय इही पाके राखी के कोनो परंपरिक लोक गीत नइ सुने बर मिलय। फेर अब आज के समे म गजब झिन बड़का कलाकार मन राखी तिहार के सुघ्घर-सुघ्घर गाना सोशल मीडिया म अपलोड करे हावय। हिन्दी जगत के बात करत तव रक्षाबंधन ले जुरे गजब अकन गीत, वीडियो, फिल्म। देखे बर मिलथे। रक्षाबंधन के गाना हिन्दी सिनेमा म गजब महत्ता के हावय। खास इही विषय म भाई बहिनी के मया ले लेके बहुत अकन फिलिम तको बने हावय। अऊ रक्षाबंधन के गाना मउका परब म सुने के अलगेच आनंद आथे। 

रक्षाबंधन स्पेशल

  • रक्षाबंधन या राखी के तिहार लोगन मन बर हर बछर नवा होथे। बहिनी मन अपन मया ले भाई मन खातिर राखी बिसाथे तव भाई मन बहिनी मन खातिर कुछू भेट लेथे। समे के संग अब ये परब म बाजारवाद के सेती सोना अउ चांदी के राखी तको आगे हाबे फेर सिरतोन कहे जाये तो रेशम डोरी ही भाई के हाथ मने फबथे। अऊ बहिनी मन अपन हाथ ले रक्षा के डोरी बनाथे ओमा मया अगाध रिथे।  

राखी तिहार, राखी त्योहार, रक्षाबंधन पर्व बधाई संदेश अउ ग्रीटिंग










राखी तिहार, राखी त्योहार, रक्षाबंधन पर्व बधाई संदेश अउ ग्रीटिंग








राखी तिहार, राखी त्योहार, रक्षाबंधन पर्व बधाई संदेश अउ ग्रीटिंग





कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

जोहार पहुना, मया राखे रहिबे...

किस्सा कहिनी

Contact Us

नाम

ईमेल *

संदेश *

कला-संस्कृति-साहित्य

follow us

T-Twitter | F-Facebook | Y-Youtube | Instagram | Pinterest
महतारी भाखा के उरउती खातिर भारत के समाचार पत्र के पंजीयक कार्यालय नई दिल्ली म पंजीकृत ' अंजोर ' छत्तीसगढ़ी मासिक पत्रिका के anjor.online वेब संस्करण म छत्तीसगढ़ी बुलेटिन, किस्सा-कहानी अउ कला-मनोरंजन संग सोशल मीडिया के चारी, कुछ आन भाखा के अनुवाद समोखे, छत्तीसगढ़ के जन भाखा म जन-जन तक बगराथन। जुड़व ये उदीम - anjore.cg@gmail.com

सियानी गोठ