Home News Contact About
'अंजोर ' छत्तीसगढ़ी मासिक पत्रिका वेब संस्करण ---- anjore.cg@gmail.com

गौरेला पेंड्रा मरवाही जिला के गांव अड़भार, आमाडांड़, पड़वनिया, देवरगांव, निमधा अउ सेमरदर्री म गोबर खरीदी शुरू

गौरेला-पेंड्रा-मरवाही.27। छत्तीसगढ़ शासन के महत्वाकांक्षी गोधन न्याय योजना के सुरू होए ले गौरेला-पेंड्रा-मरवाही जिला के ग्रामीण मन म गोबर खरीदी ले लेके गजब उत्साह देख बर मिलत हाबे। ये योजना के माध्यम ले स्थानीय स्व-सहायता समूह ल तको रोजगार के अवसर मिले हावय। राज्य शासन के गोधन न्याय योजना ले गोबर ह ग्रामीण मनके हर तरह ले लाभ पहुंचाने वाला सामग्री बनगे हावय। गोबर ले बने कम्पोस्ट खाद ले रासायनिक खाद के ऊपर निर्भरता कम होही अउ जैविक खाद के उपयोग ले फसल अउ जमीन के गुणवत्ता म सुधार के संभावना ले घलो किसान उत्साहित हाबे।

जिला के कलेक्टर श्री डोमन सिंह के मार्गदर्शन म गौरेला-पेण्ड्रा-मरवाही जिला के विभिन्न ग्राम म गोधन न्याय योजना के शुभारंभ के सिलसिला निरंतर जारी हावय। इही क्रम म पाछु दिन शिविर के आयोजन करके जिला के गांव अड़भार, आमाडांड़, पड़वनिया, देवरगांव, निमधा अउ सेमरदर्री म गोधन न्याय योजना के शुरूवात करे गीस। ये मउका म गौठान म ग्रामीण, किसान अउ पशुपालक मनले 2 रूपिया प्रति किलो के हिसाब ले गोबर खरीदे गीस। शिविर म ग्रामीण मनला गोधन न्याय योजना के संबंध म विस्तार ले जानकारी देवत बताये गिस के गोधन न्याय योजना ले गांव के अर्थव्यवस्था सुधरही। साथ ही गांव म ही रोजगार के अवसर उपलब्ध मिले ले ग्रामीण आत्मनिर्भर हो सकही। गोबर के आय के जरिया बने ले पशुपालक सहित गांववाले मन तको खुश हाबे।

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

जोहार पहुना, मया राखे रहिबे...

किस्सा कहिनी

Contact Us

नाम

ईमेल *

संदेश *

कला-संस्कृति-साहित्य

follow us

T-Twitter | F-Facebook | Y-Youtube | Instagram | Pinterest
महतारी भाखा के उरउती खातिर भारत के समाचार पत्र के पंजीयक कार्यालय नई दिल्ली म पंजीकृत ' अंजोर ' छत्तीसगढ़ी मासिक पत्रिका के anjor.online वेब संस्करण म छत्तीसगढ़ी बुलेटिन, किस्सा-कहानी अउ कला-मनोरंजन संग सोशल मीडिया के चारी, कुछ आन भाखा के अनुवाद समोखे, छत्तीसगढ़ के जन भाखा म जन-जन तक बगराथन। जुड़व ये उदीम - anjore.cg@gmail.com

सियानी गोठ