Home News Contact About
'अंजोर ' छत्तीसगढ़ी मासिक पत्रिका वेब संस्करण ---- anjore.cg@gmail.com

क्वारंटाइन सेंटर म बिहनिया योगा, दिन म बागवानी अउ संझा अक्षर ज्ञान ले कटत हावय बेरा

दुर्ग.08। आन-आन राज ले छत्तीसगढ़ लहुटे मजदूर मन 14 दिन के क्वारंटाइन म हाबे। अइसन म उंकर समय के सदुपयोग करत दुर्ग जिला म बने उदीम करे जावथाबे। जानबा होवय के प्रदेश के स्कूल मनला क्वारंटाइन सेंटर बनाये गे हाबे, गांव के भितरी म अपन भुइया म अब ओमन निसफिकिर होके दिन काटत हाबे। मिले आरो के मुताबिक शास. उच्च. माध्यमिक शाला विनायकपुर दुर्ग के क्वारंटाइन सेंटर म रूके लोगन म बिहनिया उठके योगा करथे। तेकर पाछू ओमन नहाय धोए के बुता करथे। लोगन मन जेन स्कूल म रूके हाबे उंहा के फूल-फूलवारी के जतन करे के तको बुता करत हाबे। साथे-साथ जेन ल जेन काम आथे उही ल अपन सोहलियत के मुताबिक करत हाबे, जेकर प्रशासन ह डाटा राखत हाबे। सबले जबर तो ओमन के संझा के उदीम होवत हाबे अक्षर ज्ञान के। संझा कुन स्कूले म ओमन पढ़ई-लिखई म रमे रिथे। अइसन म बेरा ह कब कटथे थोरको नी जनावे अऊ येकर ले आन मनला तको सीख मिलथे।

No comments:

Post a Comment

जोहार पहुना, मया राखे रहिबे...

किस्सा कहिनी

Contact Us

Name

Email *

Message *

कला-संस्कृति-साहित्य

follow us

T-Twitter | F-Facebook | Y-Youtube | Instagram | Pinterest
महतारी भाखा के उरउती खातिर भारत के समाचार पत्र के पंजीयक कार्यालय नई दिल्ली म पंजीकृत ' अंजोर ' छत्तीसगढ़ी मासिक पत्रिका के anjor.online वेब संस्करण म छत्तीसगढ़ी बुलेटिन, किस्सा-कहानी अउ कला-मनोरंजन संग सोशल मीडिया के चारी, कुछ आन भाखा के अनुवाद समोखे, छत्तीसगढ़ के जन भाखा म जन-जन तक बगराथन। जुड़व ये उदीम - anjore.cg@gmail.com

सियानी गोठ