Home News Contact About
'अंजोर ' छत्तीसगढ़ी मासिक पत्रिका वेब संस्करण ---- anjore.cg@gmail.com

बिलासपुर सिविल लाईन थाना ह वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग ले मांगिस आरोपी के रिमांड

बिलासपुर.23। कोरोना काल म वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के भूमिका अब अऊ गजब महत्वपूर्ण होवत हाबे। वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम ले अबतक विभागीय बइठक, लोकार्पण, जनसंपर्क अउ दिशा-निर्देश के बुता होवत रिहिसे। बिलासपुर पुलिस ह ये नवा तकनीक के उपयोग अब अरोपी मनके रिमाण्ड खातिर तको करत हाबे। बिलासपुर पुलिस के ट्वीट के मुताबिक वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम ले आरोपी मनला बिगर न्यायालय म लेगे थाना सिविल लाईन ले ही माननीय न्यायालय के आगू वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग ले पेश करके रिमाण्ड मांगे गिस। अइसन उदीम करइया बिलासपुर संभाग के पहिली थाना बनिस सिविल लाईन्स ह।

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

जोहार पहुना, मया राखे रहिबे...

किस्सा कहिनी

Contact Us

नाम

ईमेल *

संदेश *

कला-संस्कृति-साहित्य

follow us

T-Twitter | F-Facebook | Y-Youtube | Instagram | Pinterest
महतारी भाखा के उरउती खातिर भारत के समाचार पत्र के पंजीयक कार्यालय नई दिल्ली म पंजीकृत ' अंजोर ' छत्तीसगढ़ी मासिक पत्रिका के anjor.online वेब संस्करण म छत्तीसगढ़ी बुलेटिन, किस्सा-कहानी अउ कला-मनोरंजन संग सोशल मीडिया के चारी, कुछ आन भाखा के अनुवाद समोखे, छत्तीसगढ़ के जन भाखा म जन-जन तक बगराथन। जुड़व ये उदीम - anjore.cg@gmail.com

सियानी गोठ

भारत के समाचारपत्रों के पंजीयक का कार्यालय नई दिल्ली
पंजीकरण संख्या-: CHHCHH/2014/56285