Home News Contact About
'अंजोर ' छत्तीसगढ़ी मासिक पत्रिका वेब संस्करण ---- anjore.cg@gmail.com

खातु अउ बिजहा के कमी झिन होवे: श्री बघेल

किसानी बुता के लगठावत दिन ल देखत प्रदेश के मुखिया ह कृषि मंत्री अउ अधिकारी मन संग अपन घर म बइठका करिन। ओमन किहिन के बने असन बिजहा अउ खातु लानव। बेरा-बेरा म जांच तको करव, कोनो प्रकार के शिकायत नी आना चाही। 

दिन बादर लगठागे, सबो तियारी करव लव। ये बइठका म कृषि मंत्री श्री रविन्द्र चौबे, मुख्य सचिव आर. पी. मण्डल, अपर मुख्य सचिव सुब्रत साहू संग अऊ आन अधिकारी मन जुरियाए रिहिन हाबे। बइठका म कृषि मंत्री श्री रविन्द्र चौबे बताइन के किसान मन खातिर खातु अउ बिजहा के सोसायटी म जोखा कर डारे हावन। किसान मन लेगे के तको शुरू करत हाबे। खरीफ सीजन खातिर 9 लाख 7 हजार 800 क्विंटल आन-आन किस्म के बिजहा मांग के मुताबिक, अब तक 2 लाख 78 हजार 469 क्विंटल बिजहा के भंडारण होगे हाबे। अइसने 11 लाख 30 हजार मीटरिक टन रासायनिक उर्वरक के वितरण का लक्ष्य राखत अब तक जिला मन म 6 लाख 9 हजार 621 मीटरिक टन उर्वरक के भण्डारण होगे हावय। 
कृषि उत्पादन आयुक्त के बताये मुताबिक रायपुर जिला म अब तक 18 हजार 470 क्विंटल, बलौदाबाजार 17 हजार 561 क्विंटल, गरियाबंद 7007 क्विंटल, महासमुंद 23 हजार 462 क्विंटल, धमतरी  10 हजार 184 क्विंटल, दुर्ग 13 हजार 653 क्विंटल, बालोद 15 हजार 643 क्विंटल, बेमेतरा 9 हजार 157 क्विंटल, राजनांदगांव 13 हजार 196 क्विंटल, कबीरधाम 2461 क्विंटल, बिलासपुर 9812 क्विंटल, मुंगेली 2667 क्विंटल, जांजगीर-चांपा 88 हजार 331 क्विंटल, कोरबा 3780 क्विंटल, रायगढ़ 21 हजार 389 क्विंटल, सरगुजा 1050 क्विंटल, सूरजपुर 1380 क्विंटल, बलरामपुर 1335 क्विंटल, कोरिया 3402 क्विंटल, जशपुर 2544 क्विंटल, जगदलपुर  3359 क्विंटल, कोण्डागांव  1522 क्विंटल, दंतेवाड़ा 229 क्विंटल, सुकमा 1700 क्विंटल, कांकेर 2865 क्विंटल, बीजापुर 1810 क्विंटल, नारायणपुर म 300 क्विंटल बिजहा के भंडारण करे जा चुके हाबे। अइसने सबो जिला बर रासायनिक खातु के भण्डारण तको होए जाबे जेमा अब तक किसान मन 46 हजार 818 मीटरिक टन खातु ल सोसायटी ले उठो घलो डरे हावय। 29 रायपुर.

किस्सा कहिनी

Contact Us

Name

Email *

Message *

कला-संस्कृति-साहित्य

follow us

T-Twitter | F-Facebook | Y-Youtube | Instagram | Pinterest
महतारी भाखा के उरउती खातिर भारत के समाचार पत्र के पंजीयक कार्यालय नई दिल्ली म पंजीकृत ' अंजोर ' छत्तीसगढ़ी मासिक पत्रिका के anjor.online वेब संस्करण म छत्तीसगढ़ी बुलेटिन, किस्सा-कहानी अउ कला-मनोरंजन संग सोशल मीडिया के चारी, कुछ आन भाखा के अनुवाद समोखे, छत्तीसगढ़ के जन भाखा म जन-जन तक बगराथन। जुड़व ये उदीम - anjore.cg@gmail.com

सियानी गोठ