Home News Contact About
'अंजोर ' छत्तीसगढ़ी मासिक पत्रिका वेब संस्करण ---- anjore.cg@gmail.com

आयुर्वेदिक सर्वज्वरहर चूर्ण ह बढ़ाथे शरीर के रोग प्रतिरोधक क्षमता : मुख्यमंत्री भूपेश बघेल


रायपुर। प्रदेश के मुखिया श्री बघेल ह अपन निवास कार्यालय म रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाये म सहायक आयुर्वेदिक सर्वज्वरहर काढ़ा के शुभारंभ करिस। ये काढ़ा ल गरियाबंद जिला के केशोडार म भूतेश्वर हर्बल वन धन केन्द्र के महिला स्व-सहायता समूह के महिला मन 10 प्रकार के जड़ी बूटी ल मिलाके बनाये हाबे। ये मउका म मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ह किहिन के इम्युनिटी बढ़ाके ही कोरोना वायरस ले बांचे जा सकथे। ये आयुर्वेदिक सर्वज्वरहर चूर्ण ह कोरोना वायरस के बचाव म काफी मददगार होही। ओमन आगू मेडिकल कॉलेज अउ आन सामाजिक संस्था मन कोति ले कोरोना महामारी ले निपटे खातिर, रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाये खातिर बांटत आयुर्वेदिक काढ़ा के तको बढ़ई करिन। 
गरियाबंद के महिला समूह ह चूर्ण सौंठ, काली मिर्च, पीपली, लौंग, छोटी इलायची, बड़ी इलायची, दाल चीनी, जायफल, जावित्री अउ तुलसी पत्ता के मिश्रण ले येला तइयार करे हाबे। 10 मिली लीटर पानी उबाले के बाद ओमा डेढ ग्राम चूर्ण मिलाके पानी उबालना बंद करके 10 मिनट रखे के बाद छानकर पिये। रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाये खातिर कम से कम तीन दिन सेवन करय। 
मुख्यमंत्री ह भूतेश्वर हर्बल वन धन केन्द्र गरियाबंद के वन औषधी अउ जड़ी बूटी ले तइयार उत्पाद मनके केटलाग के विमोचन तको करिस। ये मउका म राज्य योजना आयोग के उपाध्यक्ष अजय सिंह, मुख्यमंत्री के अपर मुख्य सचिव सुब्रत साहू, प्रमुख सचिव वन मनोज पिंगुआ, मुख्यमंत्री के सलाहकार प्रदीप शर्मा, विनोद वर्मा, राजेश तिवारी, रूचिर गर्ग, प्रधान मुख्य वन संरक्षक राकेश चतुर्वेदी, पीसीसीएफ अउ प्रबंध संचालक लघु वनोपज संघ संजय शुक्ला, राज्य योजना आयोग के सदस्य के. सुब्रमण्यम अउ सदस्य सचिव राजेश राणा जी मन तको उपस्थित रिहिन। 

No comments:

Post a Comment

जोहार पहुना, मया राखे रहिबे...

किस्सा कहिनी

Contact Us

Name

Email *

Message *

कला-संस्कृति-साहित्य

follow us

T-Twitter | F-Facebook | Y-Youtube | Instagram | Pinterest
महतारी भाखा के उरउती खातिर भारत के समाचार पत्र के पंजीयक कार्यालय नई दिल्ली म पंजीकृत ' अंजोर ' छत्तीसगढ़ी मासिक पत्रिका के anjor.online वेब संस्करण म छत्तीसगढ़ी बुलेटिन, किस्सा-कहानी अउ कला-मनोरंजन संग सोशल मीडिया के चारी, कुछ आन भाखा के अनुवाद समोखे, छत्तीसगढ़ के जन भाखा म जन-जन तक बगराथन। जुड़व ये उदीम - anjore.cg@gmail.com

सियानी गोठ